Larry Page और Sergey Brin ने दुनिया के सबसे बड़े search engine google की शुरूरात कैसे की।(Biography of google)

0
40

दोस्तों आज हम आपको बताएँगे कि दुनिया के सबसे बडे search engine Google की शुरूरात कैसे हुई। Google को आज कौन नही जनता जो भी internet use करता है वो सबसे पहले गूगल ही खोलता है। तो कैसे बनी गूगल इतनी बड़ी Company ????
Google एक internet business टेक्नोलॉजी company है। गूगल को Larry Page और Sergey Brin ने 1998 में start किया था। उस time yahoo और lycos जैसे search engine पहले से ही बहुत popular थे । पर Larry और Sergey के दिमाग में कुछ नया search engine बनाने की चल रही थी। Larry और Sergey चाहते थे कि वो एक ऐसा search engine बनाये जिसमे search करने पर popularty के हिसाब से result मिले जिससे लोगो को आसानी से और जल्दी काम हो जाए।
जनवरी 1996 में Larry Page और Sergey Brin ने Google की starting अपने research project के दौरान की थी जब Larry और Sergey दोनों Stanford University से PHD कर रहे थे। इन्होंने तब इस technology का नाम ‘Pagerank’ और search engine का नाम ‘Backrub‘ रखा। 1998 तक इन्होंने 2.5 करोड़ webPage का data ready कर लिया । अगस्त 1998 में Larry Page और Sergey Brin की मुलाकात Andy Bechtolseim जोकि Sun Microsystems के co-founder थे। Larry और Sergey ने अपना प्लान Mr. Bechtolseim के सामने रखा तो Mr. Bechtolseim उनका plan सुनकर 1 लाख dolor का cheque  Google के नाम काट दिया। अब आप ये सोचिये कि Mr. Bechtolseim ने एक ऐसी company के नाम का cheque काट दिया जो अभी शुरू भी नही हुयी थी।

Google Founders
                                 Larry Page & Sergey Brin

Larry Page और Sergey Brin ने 15 सितम्बर 1997 में Google के domain का registration करा लिया था फिर 4 सितम्बर 1998 को Larry और Sergey ने Google.inc नाम से company की स्थापित किया और इसके नाम से bank में account खुलवाया। Larry और Sergey इसका नाम backrub ही रखना चाहते थे लेकिन फिर इससे company का काम और नाम में अन्तर हो जाता तो उन्होंने इसका नाम Google ही रखा। Larry Page और Sergey Brin ने Sraig Silverstein को Google का पहला employee के रूप में hire किया था।

Google का नाम कैसे रखा गया

जब Larry Page और Sergey Brin ने Google Search engine बनाया तब वे दोनों Stanford University से PHD कर रहे थे इसकी वजह से उनकी पढ़ाई में problem होने लगी तो उन्होंने इसे बेचने का फैसला किया और उन्होंने Excite के CEO George Bell के सामने 10 लाख dolor में इसे बेचने का प्रस्ताब रखा लेकिन Mr. Bell ने इस प्रस्ताब को माना कर दिया क्योंकि वो गूगल के future को नही देख पाये।

अगस्त 2004 में Google ने अपने को शेयर market में list किया और 85 $ में शेयर जारी किये जोकि अक्टूबर 2007 में 700 $ के हो गए। जुलाई 2000 में Yahoo default search provider बना और इसी year Google के पास 1 अरब url index हो गए। 2006 में Google ने YouTube को खरीद लिया।

2007 में Google ने mobile के लिए operating system के लिए android बनाया जो बहुत अधिक popular हुआ जोकि आज कल हम सभी mobiles में use करते हैं। फिर 2010 में Google ने nexus one smartphone market में उतारा और 2010 में गूगल की income 29 अरब थी।

अभी Google की बहुत सी service हैं जोकि:
>>  Gmail
>>  Google Map
>>  Google Plus
>>  YouTube
>>  Google Translate
>>  Android
>>  Image Search
>>  Blogger
>>  Google earth
>>  Video chat

Google दुनिया का सबसे बड़ा search engine है जोकि एक छोटे से idea से बना था तो आप ये पढ़ कर कुछ motivate हुए हैं तो कुछ नया करने की कोशिश कीजिये ।।।।

अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी या इसमें कोई गलतियां नज़र आ रही हैं तो कमेंट जरूर करें।

अगर आप कोई post या article शेयर करना चाहते है तो हमें mail कर सकते हैं info@eJankari.com पर।

कोई टिप्पणी नहीं है

Leave a Reply